भारतीय जल सेना में INS Vikrant को शामिल किया जा रहा है.

INS Vikrant एक aircraft carrier है जो की भारत के समुंदरी इतिहास में आज तक का सबसे बड़ा युद्धपोत है.

INS Vikrant के स्वदेशी होने के कारण इसका महत्व और अधिक बढ़ जाता है

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा की आज 2 सितम्बर को भारत इतिहास रचने जा रहा है

यह aircraft carrier से ज़्यादा तैरता हुआ Airfield है, यह तैरता हुआ शहर है. इसमें जितनी बिजली पैदा होती है उससे करीब 5,000 घरों को रोशन किया जा सकता है.

INS Vikrant का डेक भी दो फुटबॉल मैदान से ज्यादा बड़ा है और इसमें इस्तेमाल होने वाली हर चीज स्वदेशी है

INS Vikrant की लंबाई 262 M है। और उसका Weight करीब 45,000 टन है। इस युद्धपोत में 88 मेगावाट बिजली की चार गैस टर्बाइनें लगी हैं ।और इसकी अधिकतम गति 28 (नॉट) समुद्री मील है।

यह युद्धपोत स्वदेश निर्मित उन्नत किस्म के हल्के Helicofter(LH) और हल्के Fighter Jet (LCA) के अलावा MIG-29 के Fighter Jet, कामोव-31, एमएच-60 Rऔर Multi Role हेलीकाप्टरों के साथ 30 Jets से युक्त Air Wing के संचालन में सक्षम है।

ऐसी इस जानकारी से भरपूर स्टोरी देखने के लिए हमारी वेबसाइट पर जाये.