NIA Raids PFI : PFI के कार्यकर्ताओ को NIA ने किया गिरफ्तार. भारत की जांच एजेंसी NIA और ED ने पिछले कुछ दिनों से लगातार PFI नामक आंतकी संगठन के ठिकानो पर छापेमारी की है. जिसके विरोध में कुछ असामाजिक तत्व विरोध प्रदर्शन कर रहे है.

NIA Raids PFI: PFI activists arrested by NIA

जिनमे से काफी लोगो को चिन्हित करके गिरफ्तार किया जा रहा है. आपको बता दे की NIA ने PFI के ठिकानो पर 26 सितम्बर को छापेमारी शुरू की थी. जिसके बाद से काफी विरोध प्रदर्शन हुए थे. जिनमे अब तक करीब 150 से ज्यादा आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है.

भारत जोड़ो यात्रा और इससे जुड़े विवाद – bharat jodo yatra

और NIA अपनी जांच पड़ताल में जुटी हुई है. अभी जाँच चल रही है लेकिन इसके कई मायने निकले जा रहे है.

NIA ने PFI पर क्यों मारा छापा

NIA एक जाँच एजेंसी है. और PFI एक कट्टर इस्लामिक संगठन है. PFI पर TERROR FUNDING और देश में अराजकता फ़ैलाने जैसे आरोप लगे हुए है. आरोप है की PFI के कार्यकर्ताओ को विदेशो से भारत में अशांति फ़ैलाने के बदले पैसे मिलते है. इसलिए PFI देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए बहुत बड़ा खतरा बन गई थी. उदयपुर में हिन्दू दरजी की हत्या से लेकर कई हिदुओं की हत्या में भी PFI के कार्यकर्ताओ का हाथ होने के आरोप लगे है. आरोप है की PFI को खाड़ी देशों से फंडिंग दी जाती है.

मुख्यमंत्री Himanta Biswa Sarma ने दिया अखंड भारत पर अहम बयान, कहा

जिससे आंतकवाद यहाँ नाक के नासूर बन गए है. इसके अलावा मुख्य कारण PFI के द्वारा भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाये जाने का प्रयास करने का दावा है. जिसके अनुसार PFI के पास से ऐसे सबूत मिले थे. जिससे 2047 तक भारत को मुस्लिम राष्ट्र बनाने की फिर में थे. हालाँकि इन सभी दावों की अभी जांच चल रही है. लेकिन भारत सरकार देश की अखंडता से समझौता नहीं करेगी.

Kangana Ranaut ने Mahesh Bhatt को लेकर किया चौंकाने वाला खुलासा

PFI क्या है

PFI का पूरा नाम Popular Front of India है. ये एक कट्टर इस्लामिक संगठन है. इसकाका गठन 2006 में हुआ था. संगता का गठन NDF के उत्तराधिकार के रूप किया गया था. बाद में कई सारे इस्लामिक संगठनों को इसमें विलय कर दिया गया था.

क्या भारत वास्तव में सुरक्षित हाथों है

PFI पर आंतकवादी गतिविधियों में शामिल रहने के आरोप लगते रहते है. PFI के काफी सारे कार्यकर्ताओ पर हत्या, लूट, धमकी और अपहरण जैसे संगीन मुकदमे दर्ज है. कुल मिलाकर PFI एक कट्टर इस्लामिक संगठन है. जिस पर भारत में राष्ट्रविरोधी गतिविधियाँ संचालित करने का आरोप है.

Rohingya muslims : Case Study in Hindi